Bihar Mukhymantri Udhmi Yojana 2022 Online

Share your love

यदि आप बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे अनुरोध है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

टेबल आफ Contents-

1- बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022
2- बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के पश्चात प्राप्त हुए 65000 आवेदन।
3- 200-200 करोड़ रुपए के बजट को किया गया आवान्टन
4- बिहार मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना
5- बिहार मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना
6- बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का उद्देश्य
7- बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना एक परसेंट ब्याज पर प्रदान किया जाएगा ऋण
8- 1 जून 2021 को लांच किया गया ऑनलाइन पोर्टल
9- महिलाओं को बिना ब्याज के प्रदान किया जाएगा ऋण
10- मुख्यमंत्री महिला एवं युवा उद्यमी योजना का शुरुआत
11- बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के जरिए चयन प्रक्रिया
12- मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के पश्चात आवेदन करने की प्रक्रिया
13- रजिस्ट्रेशन
. लॉगिन प्रक्रिया
. आवेदन फार्म
. पहला चरण
. दूसरा चरण
. तीसरा चरण
. चौथा चरण
. पांचवा चरण
. छठा चरण
. सातवां चरण
14- पोर्टल पर लॉगिन करने की प्रक्रिया
15- अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के आवेदन पत्र में भरी जाने वाली जानकारियों की सूची
16- संबंधित संस्थान की सूची देखने की प्रक्रिया
17- नोडल पदाधिकारी की सूची देखने की प्रक्रिया
18- संपर्क जानकारी

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022-

यह योजना बिहार की सरकार अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों के लिए शुरु की है। इस योजना के जरिए सरकार उद्योग स्थापित करने पर ₹1000000 का प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।

इस योजना को सरकार ने उद्योग को प्रोत्साहन देने के लिए शुरू किया है। बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 के माध्यम से बेरोजगारी की दरों में कमी आयेगी तथा अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के नागरिकों को आय सहायता प्राप्त होगी। जिससे कि वह अपना खुद का उद्धमी योजना के लिए बिहार सरकार ने 102 करोड़ का बजट निर्धारित किया है।

इंडिया और मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के जरिए काउंसलिंग-

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत चयनित आवेदनो काउन्सलिंग की जा रही है। यह काउंसलिंग रेशम भवन में की जा रही हैं। 31 दिसंबर 2021 तक मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के जरिए सभी चयनित आवेदनो की काउंसलिंग खत्म होने की संभावना है।

भागलपुर में चयनित अभ्यर्थियों की संख्या 76 है जिसमें से 45 की काउंसलिंग अभी तक हो चुकी है। इसके पहले मुख्यमंत्री अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना के तहत 116 लोगों में से 70 लोगों को मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना में 120 में 85 अभ्यार्थियों की काउंसिल समाप्त हो चुकी है।

काउंसलिंग में सभी कागजातों की जांच भी की जा रही है। कोरोनावायरस कमल के खतरे को देखते हुए कम संख्या में काउंसलिंग के लिए नागरिकों को बुलाया जा रहा है।

की हाईलाइट ऑफ़ बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022-
. किसने शुरू की- बिहार सरकार नीतीश कुमार
. लाभ लेने वाले- बिहार के अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के लोग
. प्रोत्साहन राशि- 1000000 रुपए
. किस साल शुरू हुआ- 2022 में

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के जरिए प्राप्त हुए 65000 आवेदन-

उद्यमी योजना के तहत आवेदन की प्रतीक्षा सुचि आने वाली 2 महीने में तैयार हो जाएगी।इस सुचि में लगभग 65000 आवेदक होंगे। मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति जनजाति उद्यमी योजना मुख्यमंत्री अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना एवं महिला उद्यमी योजना के जरिए 200-200 की संख्या में लाभ लेने वाले का चयन किया जाएगा। जिसका मतलब यह है कि बचे हुए आवेदकों को प्रतीक्षा सूची में रखा जाएगा। इस बात की जानकारी उद्योग विभाग के अधिकारियों द्वारा प्रदान की गई है।

कुछ सुत्रो द्वारा यह सुझाव प्रदान किया गया था कि वह सभी नागरिक जो प्रतीक्षा सूची में है उनमें से ही आने वाले वित्तीय वर्ष के लिए लाभ लेने वाले का चयन कर लिया जाए। लेकिन उद्योग विभाग द्वारा अभी इस बारे में कोई निर्णय नहीं लिया गया है।

वह सही लाभ लेने वाले मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के जरिए चयन किया जाएगा उनको उद्योग विभाग द्वारा अपने स्तर पर प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा। जिससे कि उनके उद्योग का विकास होगा।

योजना के जरिए खत्म हुए आवेदन-

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के जरिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 17 सितंबर 2001 थी।17 सितंबर 2021 रात 12:00 बजे आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो गई है। यह आवेदन प्रक्रिया 17 जून 2021 से शुरू हुई थी। 17 दिसंबर 2021 की शाम 7: 00 बजे तक 57 हजार आवेदन प्राप्त हुए हैं। इस बात की जानकारी उद्योग विभाग द्वारा प्रदान की गई है।

विभाग द्वारा जल्द आवेदन की स्क्रुटनी की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। इस योजना के माध्यम से लाभ लेने वालों को 10हजार रुपये प्रदान किए जाएंगे। जिसमें से 5 लाख रुपये अनुदान के रूप में प्रदान किये जाएगे एंव 5 लाख ऋण (उधार) के रुप में कम ब्याज पर प्रदान किये जाएंगे।

200-200 करोड़ों रुपए के बजट का किया गया आवंटन-

इस योजना का संचालन उद्योग विभाग के माध्यम से किया जाएगा महिला उद्यमी योजना के तहत 11625 आवेदन प्राप्त हुए हैं। मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के तहत 12971 आवेदन प्राप्त हुए हैं।

सरकार द्वारा एससी के वर्ग के नागरिकों के उद्योग को बढ़ावा देने के लिए अलग से योजना का संचालन किया जा रहा है। जिसके तहत16327 आवेदन प्राप्त हुए हैं। मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत सभी 4 योजनाओं के लिए सरकार द्वारा 200-200 करोड़ रुपये अवांटित किए गए हैं।

जिसका मतलब है कि यदि 10 – 10 लाख के प्रोजेक्ट स्वीकृत किए जाते हैं तो अधिकतम दो – दो हजार नागरिकों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

बिहार मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना-

उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए बिहार सरकार द्वारा मुख्यमंत्री उद्यमी योजना शुरू की गई थी। इस योजना के माध्यम से अनुसूचित जाति एवं जनजाति के नागरिकों को 1000000 की आय उद्योग के लिए प्रदान की जाती है।

अब इस योजना का लाभ प्रदेश के युवाओं को भी प्रदान किया जाएगा। प्रदेश के वे सभी लोग जिनकी आयु 18 वर्ष से 50 वर्ष के बीच है वह इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

इसके अलावा इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभ लेने वालों को 10-2 या इंटरमीडिएट आईटीआई पालिटेक्निक डिप्लोमा या समकक्ष होनी चाहिए।

बिहार मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के माध्यम से प्रदेश की बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी। इस योजना के माध्यम से प्राप्त हुए 1000000 लाख रुपये की राशि में से युवाओं को केवल 500000 लाख रुपये वापस करने होंगे और 500000 लाख रुपये का अनुदान सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा।

500000 की राशि पर युवाओं को 1% ब्याज का भुगतान करना होगा। इस योजना का संचालन बिहार के उद्योग विभाग द्वारा किया जाएगा।

बिहार मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना-

. महिलाओं को उद्योग के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए बिहार सरकार द्वारा बिहार मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना का शुरूआत किया गया है।इस योजना के माध्यम से प्रदेश की महिलाओं को अपना उद्योग स्थापित करने के लिए सहायता 10 लाख रुपये प्रदान की जाएगी।

. यह 10 लाख रुपए की राशि में से महिलाओं को केवल 5 लाख रुपये बिहार सरकार द्वारा अनुदान के रूप में प्रदान किए जाएंगे। महिलाओं को इस राशि पर किसी भी प्रकार के ब्याज का भुगतान करने की जरूरत नहीं है।

. मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 400 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। इस योजना के माध्यम से महिलाएं सशक्त एवं अपने आप पर निर्भर बनेगी एवं प्रदेश के दूसरे नागरिक को भी रोजगार प्रदान कर सकेगी।

. इस योजना का लाभ उठाने के लिए महिला की उम्र 18 से 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए।एवं मध्यम महिला द्वारा इंटरमीडिएट आईटीआई पॉलिटेक्निक डिप्लोमा या समकक्ष परीक्षा में उत्तीर्ण होने चाहिए।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का उद्देश्य-

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में सूक्ष्म और लघु उद्योग को बढ़ावा देना है। इस योजना के माध्यम से अनुसूचित जाति तथा जनजाति के नागरिकों को आय सहायता प्रदान की जाएगी। जिससे कि वह अपना व्यापार शुरू कर पाए। मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के माध्यम से बेरोजगारी दर में भी गिरावट आयेगी। इसी के साथ अनुसूचित जाति व जनजाति के युवाओं को बहुत अच्छा आजीविका प्राप्त होगी।

जरूरी जानकारी Apply Now –

. निवास प्रमाण पत्र
. मैट्रिक प्रमाण पत्र
. इंटरमीडिएट या समकक्ष योग्यता प्रमाण पत्र
. हस्ताक्षर का नमूना
. पैन कार्ड
. आधार कार्ड
. पासपोर्ट साइज फोटो
. जाति प्रमाण पत्र (पिता के नाम से)
. मोबाइल नंबर

Share your love
Default image
Suman Kushwaha
Articles: 11

Leave a Reply